No Picture

सकारात्मक-सोच

April 30, 2016 sangeeta 0

मानव जीवन आज के इस भौतिकतावादी युग में इतना जटिल व कठिन हो चुका है कि किसी को किसी से सरोकार ही नहीं। आज के […]

No Picture

मानवता की पुकार

April 24, 2016 sangeeta 0

मचा है चारों ओर हाहाकार रही मानवता पुकार क्या यही है हमारा भारत करे मानवता सवाल क्या इसी दिन के लिये हमारे देश के शहीदों […]

No Picture

आसमान के तारे

April 21, 2016 sangeeta 0

आसमान के तारे कितने प्यारे मानो दीयों की कतारें झिलमिल झालरें टिमटिमाते नजारे अगणित पसारे हम-सबको पुकारे रोशनी के अंगारे आसमान के तारे कितने प्यारे

No Picture

मानव-मन

April 9, 2016 sangeeta 0

मानव-मन बडा ही चंचल होता है। कभी एक जगह स्थिर नहीं रहता, हमेशा डोलायमान होता है। इसे बाँधा नहीं जा सकता। कभी यह ऊँची-ऊँची पर्वत-श्रँखलाओं […]

No Picture

समय

April 2, 2016 sangeeta 0

समय बडा बलवान होता है। जिसने समय को साध लिया,उसका जीवन सार्थक हो गया। जीवन में कुछ पाना है तो समय के साथ चलना बहुत […]