No Picture

अजनबी साया

April 22, 2017 sangeeta 0

एक अजनबी साया सा मेरे सामने बैठा था पराया होकर भी लगता अपना सा था उन आँखों में झलकता जीवन सा था एक सुखद अहसास […]

No Picture

गाँव की छोरी

April 13, 2017 sangeeta 0

वह गाँव की छोरी थी बडी़-बडी़ आँखें, छोटी नाक, गोल-गोल गाल, लम्बे काले घने बाल, सुन्दरता की मूरत, नाम था किरन। किरन गाँव में पैदा […]

No Picture

नादानियाँ

April 6, 2017 sangeeta 0

ऐ मन मेरे, तू मत कर नादानियाँ भूल कर भी, मत बढा़ परेशानियाँ क्या खोया, क्या पाया इस चिन्ता में, न पड़ना खाली हाथ आया […]